Mon. May 20th, 2024

Anuradha Paudwal Join BJP: क्या भाजपा लोकसभा का देगी टिकट ? 

anuradha paudwalanuradha paudwal

Anuradha Paudwal की सदाबहार आवाज का जादू आज भी हर किसी पर है। पौडवाल ने अंदरखाने राजनीतिक माहौल तैयार कर लिया है. वह राजनीति में आ गई हैं. वे 16 March 2024 (शनिवार) को भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हो गई हैं। उन्होंने बीजेपी महासचिव अरुण सिंह, राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी और अन्य नेताओं की मौजूदगी में पार्टी की प्रारंभिक सदस्यता ली. उम्मीद है कि लोकसभा चुनाव में BJP उन्हें बड़ी जिम्मेदारी देगी. स्टार प्रचारक के तौर पर इस बात की पूरी संभावना है कि वह लोकसभा के रण में हिस्सा लेंगी. सनातन अवधारणा में उनकी गहरी आस्था है। Anuradha Paudwal लोकप्रियता के शिखर पर होने के बावजूद उन्होंने अपनी साधारण जीवनशैली से सभी का दिल जीत लिया है। 

कोंकणी परिवार में जन्म

अनुराधा पौडवाल का जन्म 27 अक्टूबर 1954 को कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ के कारवार में एक कोंकणी परिवार में हुआ था। उन्होंने अपना पहला गाना 1973 में फिल्म अभिमान में गाया था. इसके बाद पौडवाल ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. Anuradha Paudwal  ने कई बॉलीवुड फिल्मों में ना स्वर दिया है. इनमें ‘आशिकी’, ‘राम लखन’, ‘साजन’, ‘दिल’, ‘दिल है कि मानता नहीं’ और ‘बेटा’ जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्में शामिल हैं। गाने को दर्शकों ने हाथों हाथ लिया.

Anuradha Paudwal की कुल संपत्ति क्या है?

Anuradha Paudwalकी कुल संपत्ति का सटीक अनुमान लगाना मुश्किल है। क्योंकि इसके लिए कई कारक जिम्मेदार हैं. वह प्लेबैक रॉयल्टी, लाइव शो, रिकॉर्डिंग, ब्रांड एंडोर्समेंट और अन्य व्यावसायिक उद्यमों से कमाते हैं। कुछ मीडिया अनुमानों के मुताबिक, उनकी कुल संपत्ति 50 से 100 करोड़ रुपये तक हो सकती है। वह मुंबई के खार स्थित तुमदार हाउस में रहती हैं। वे बेहद सादा जीवन जीना पसंद करते हैं।

Anuradha Paudwal को पद्मश्री सम्मान दिया गया

गायन के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए उन्हें कई पुरस्कार मिले हैं। 2017 में अनुराधा पौडवाल को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा फिल्मफेयर अवॉर्ड, नेशनल फिल्म अवॉर्ड पर भी उनके नाम पर मुहर लग चुकी है. उन्होंने न सिर्फ बॉलीवुड फिल्मों में बल्कि भजनों के जरिए भी भक्तों को दीवाना बनाया है। भक्त उनके भजन में लीन हो जाते हैं. उनकी मधुर आवाज में भक्ति रस की एक अलग ही मिठास है। वैसे तो उन्होंने अपने करियर की शुरुआत हिंदी भाषा से की थी, लेकिन गुजराती, पहाड़ी, कन्नड़, तमिल, मराठी, संस्कृत, बंगाली, तेलुगु, उड़िया, असमिया, पंजाबी समेत कई भाषाओं में उनके गानों ने फैन्स का दिल जीता है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *