Mon. May 20th, 2024

BJP Sankalp Patra: एक देश एक चुनाव, समावेशी विकास और फ्री राशन, खुला PM Modi की गारंटी का पिटारा

PM MODI

BJP Sankalp Patra: लोकसभा चुनाव से पहले एक रणनीतिक कदम में, भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपना घोषणापत्र जारी किया है, जिसमें देश के हाशिए पर रहने वाले वर्गों की सामाजिक-आर्थिक स्थिति को ऊपर उठाने के उद्देश्य से महत्वाकांक्षी योजनाओं की रूपरेखा दी गई है। PM MOdi के नेतृत्व में, भाजपा के घोषणापत्र में गरीबी उन्मूलन, स्वास्थ्य देखभाल, आवास और महिला सशक्तिकरण को लक्षित करने वाली कई पहलों का वादा किया गया है।

घोषणापत्र के केंद्र में तीन करोड़ परिवारों को आवास उपलब्ध कराने की प्रतिबद्धता है, जो भारत के आवास संकट को दूर करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इसके साथ ही, पार्टी अगले पांच वर्षों तक मुफ्त राशन योजना जारी रखने का संकल्प लेती है, जिससे यह सुनिश्चित होगा कि कमजोर समुदायों को आवश्यक खाद्य आपूर्ति मिल सके।

प्रधान मंत्री मोदी ने सभी भारतीयों के जीवन स्तर में सुधार के लिए भाजपा के समर्पण को रेखांकित करते हुए, इन उपायों के महत्व पर जोर दिया।
आवास और खाद्य सुरक्षा के अलावा, घोषणापत्र में स्वास्थ्य देखभाल को प्राथमिकता वाले क्षेत्र के रूप में रेखांकित किया गया है। आयुष्मान भारत योजना, जो आर्थिक रूप से वंचित व्यक्तियों को स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करती है, अब इसका लाभ 70 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों को देगी, चाहे उनकी सामाजिक-आर्थिक स्थिति कुछ भी हो। स्वास्थ्य देखभाल कवरेज का यह विस्तार यह सुनिश्चित करने के लिए भाजपा की प्रतिबद्धता को दर्शाता है कि प्रत्येक भारतीय को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा उपचार तक पहुंच मिले।
इसके अलावा, भाजपा के घोषणापत्र में छोटे उद्यमियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से एक प्रमुख योजना मुद्रा योजना को बढ़ावा देने का वादा किया गया है। ऋण सीमा को 20 लाख तक बढ़ाकर, पार्टी का लक्ष्य इच्छुक उद्यमियों को सशक्त बनाना और देश भर में उद्यमिता की संस्कृति को बढ़ावा देना है। इस कदम से आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलने और विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर पैदा होने की उम्मीद है।
घोषणापत्र में एक और महत्वपूर्ण घोषणा उज्ज्वला योजना का विस्तार है, जो गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को स्वच्छ खाना पकाने का ईंधन प्रदान करती है। उज्ज्वला योजना के लिए सब्सिडी अगले वर्ष के लिए बढ़ा दी जाएगी, यह सुनिश्चित करते हुए कि अधिक परिवारों को स्वच्छ और किफायती ऊर्जा स्रोतों तक पहुंच प्राप्त हो। यह पहल स्वच्छ ऊर्जा को बढ़ावा देने और इनडोर वायु प्रदूषण को कम करने के सरकार के प्रयासों के अनुरूप है, जिससे सार्वजनिक स्वास्थ्य परिणामों में सुधार होता है।
भाजपा के घोषणापत्र में महिला सशक्तिकरण को प्रमुखता से शामिल किया गया है, जिसमें महिला उद्यमियों और एथलीटों के लिए अवसर पैदा करने पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

पार्टी का लक्ष्य सूचना प्रौद्योगिकी और पर्यटन जैसे क्षेत्रों पर विशेष जोर देते हुए तीन करोड़ महिलाओं को वित्तीय रूप से स्वतंत्र बनने में सहायता करना है। इसके अतिरिक्त, महिला एथलीटों को खेलों में उनकी भागीदारी को प्रोत्साहित करने और एथलेटिक्स के क्षेत्र में लैंगिक समानता को बढ़ावा देने के लिए विशेष सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

समावेशी विकास के प्रति अपनी प्रतिबद्धता के अनुरूप, भाजपा का घोषणापत्र बुनियादी ढांचे के विकास और ग्रामीण सशक्तिकरण के महत्व पर जोर देता है। पार्टी ग्रामीण क्षेत्रों में खाद्य प्रसंस्करण केंद्र बनाने पर ध्यान केंद्रित करने का संकल्प लेती है, जिससे रोजगार के अवसर पैदा होंगे और कृषि उत्पादकता को बढ़ावा मिलेगा।

इसके अलावा, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना और पीएम किसान योजना जैसी पहल किसानों को समर्थन देना और कृषि स्थिरता को बढ़ाना जारी रखेंगी।

भाजपा का घोषणापत्र आर्थिक वृद्धि और सामुदायिक विकास को बढ़ावा देने में सहकारी समितियों के महत्व को भी रेखांकित करता है। उत्पादकता और आजीविका बढ़ाने पर ध्यान देने के साथ विभिन्न क्षेत्रों के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए एक राष्ट्रीय सहकारी नीति पेश की जाएगी।

इसके अतिरिक्त, देश भर में डेयरी और सहकारी समितियों की संख्या बढ़ाई जाएगी, जिससे ग्रामीण उद्यमियों को आगे बढ़ने के लिए एक मंच मिलेगा।
आबादी की विविध आवश्यकताओं की पहचान में, भाजपा के घोषणापत्र में दिव्यांगों और वरिष्ठ नागरिकों के लिए प्रावधान शामिल हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना अब दिव्यांगों के लिए आवास को प्राथमिकता देगी, यह सुनिश्चित करेगी कि उन्हें सुरक्षित और सुलभ रहने की जगह मिल सके।

इसके अलावा, 70 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिक आयुष्मान भारत योजना के तहत मुफ्त चिकित्सा उपचार के पात्र होंगे, चाहे उनकी आय का स्तर कुछ भी हो।

भाजपा का घोषणापत्र विशेष रूप से कम आय वाले परिवारों के लिए बढ़ते बिजली बिल के मुद्दे को भी संबोधित करता है। पार्टी लाखों लोगों के लिए बिजली बिल शून्य करने का संकल्प लेती है, जिससे कमजोर समुदायों पर वित्तीय बोझ कम होगा और आवश्यक सेवाओं तक पहुंच को बढ़ावा मिलेगा। यह पहल बुनियादी उपयोगिताओं तक समान पहुंच सुनिश्चित करने और सभी नागरिकों के लिए जीवन स्तर में सुधार लाने की सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाती है।

भाजपा का घोषणापत्र समावेशी विकास के लिए एक व्यापक दृष्टिकोण की रूपरेखा तैयार करता है, जिसमें आवास, स्वास्थ्य देखभाल, उद्यमशीलता और ग्रामीण सशक्तिकरण शामिल है। हाशिए पर रहने वाले समुदायों के उत्थान और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित करने के साथ, घोषणापत्र एक समृद्ध और न्यायसंगत समाज के निर्माण के लिए पार्टी की प्रतिबद्धता को दर्शाता है

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *