Mon. May 20th, 2024

Kangana-Arun Govil in BJP List: मेरठ से रामायण के ‘राम’ और मंडी से बालीवुड की ‘Queen’ को BJP ने घोषित किया प्रत्याशी

arun kangna

Kangana-Arun Govil in BJP List: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने रविवार (24 मार्च) को अपनी 5वीं लिस्ट जारी कर दी। इस सूची में यूपी की 13 सीटों सहित कुल 111 नामों की घोषणा की है। भाजपा की सूची में कई नाम चैकाने वाले हैं, जिनमें रामायण के राम अरुण गोविल मेरठ से, फिल्म अभिनेत्री कंगना रानौत को हिमाचल की मंडी लोकसभा से तो वहीं गाजियाबाद के मौजूदा सांसद वीके सिंह का टिकट काटकर अतुल गर्ग को पार्टी ने अपना प्रत्याशी बनाकर नए चेहरों पर दांव चला है।

अतुल गर्ग वर्तमान में गाजियाबाद विधानसभा से लगातार दूसरी वार विधायक हैं। वर्ष 2017 में योगी सरकार में उन्हें राज्यमंत्री का दायित्व दिया गया, लेकिन 2022 में उन्हें यूपी सरकार में मंत्री पद नहीं दिया गया। पार्टी ने इस वार उन्हें वीके सिंह की जगह लोकसभा का प्रत्याशी बनाया है।

BJP ने हिमाचल प्रदेश से पहली महिला प्रत्याशी कंगना रनौत की कराई चुनावी रण में एंट्री

पहाड़ी राज्य हिमाचल में 4 लोकभा की सीटें हैं- हमीरपुर, कांगड़ा शिमला और मंडी। कंगना रनौत हिमाचल में भाजपा के टिकट पर पहली महिला प्रत्याशी है। पार्टी ने उन्हें मंडी लोकसभा से टिकट दिया है। इससे पहले पार्टी ने किसी भी महिला को प्रत्याशी नहीं बनाया था। कंगना अपने बेवाक बयानों के लिए जानी जाती हैं।

धारा 370, तीन तलाक, राम मंदिर आदि पर सरकार का सर्मथन करती रहीं हैं। एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर भी उन्होंने बेखोफ होकर आवाज़ उठाई। कांगना परिवारवाद को लेकर बालीवुड को धेरती रहती हैं।  गौरतलब है कि कंगना रनौत के परदादा सूरज सिंह  त्रिफालघाट विधानसभा से विधायक रहे हैं।

23 मार्च को कंगना रनौत ने अपना जन्मदिन मनाया था और बंगलामुखी मंदिर में उन्होंने पूजा-अर्चना की थी। अगले ही दिन 24 मार्च को भाजपा ने बालीवुड की क्वीन को मंडी से टिकट देकर उनकी चुनावी रण में एंट्री करा दी। टिकट मिलने के बाद उन्होंने पार्टी को आभार जताया।

मेरठ से जीत की हैट्रिक लगाने वाले राजेन्द्र अगवाल पर भारी पड़े ‘रामायण’ के ‘राम’

भाजपा ने अपने मौजूदा सांसद राजेंद्र अग्रवाल का इस बार टिकट काट दिया है। उन्होंने लगातार तीन बार मेरठ से जीतकर भाजपा का परचम लहराया था। उन्होंने 2009, 2014 और 2019 में जीत दर्ज की थी। इस बार पार्टी ने उनकी जगह 90 के दशक के लोकप्रिय सीरियल रामायण में भगवान राम का अभिनय करने वाले अरुण गोविल को प्रत्याशाी बनाया है।

लोगों के बीच इस बात चर्चा है कि आखिर भाजपा ने अपने वर्तमान सांसद राजेन्द्र अग्रवाल का टिकट क्यों काट दिया। भाजपा हर बात का गुणा-भाग लगाती है। अरुण गोविल भी अग्रवाल जाति से हैं, उनका मेरठ से गहरा नाता है और यहीं उनका जन्म अग्रवाल परिवार में। उनके पिता जल-विभाग में अभियंता थे और उनकी मां शारदा देवी गृहिणी थीं।

अरुण गोविल ने मेरठ के चरण सिंह विश्वविद्यालय से शिक्षा प्राप्त की। इसके बाद वह अपना करियर बनाने मुंबई चले गए। उन्होंने कई फिल्मों में काम किया। इसके बाद रामानंद सागर के सीरियल रामायण में उन्होंने भगवान राम का किरदार निभाया। 90 के दशक के इस रामायण सीरियल गोविल घर-घर में लोकप्रिय हो गए।

अब 2024 में अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य और दिव्य मंदिर बनकर तैयार है, तो भाजपा ने रामायण के राम को मेरठ से उनको टिकट देकर उन्हें चुनावी मैदान में उतार दिया है।

वर्ष 2021 से ही BJP में हैं रामायण के ‘राम’ अरुण गोविल

अरुण गोविल ने 2021 में बीजेपी में शामिल होते वक्त कहा था कि वह राजनीति में इसलिए आए हैं, क्योंकि वह देश की सेवा करना चाहते हैं। लेकिन, अब कुछ उन्हें मेरठ से उम्मीदवार बनाया गया है. अरुण गोविल को धारावाहिक रामायण से पूरे देश और दुनिया में प्रसिद्धि मिली है। अब इसमें कोई शक नहीं कि बीजेपी इस प्रचार का फायदा उठाएगी. अरुण गोविल द्वारा अभिनीत भगवान राम की छवि आज भी लोगों के मन में बनी हुई है। यह देखना दिलचस्प होगा कि अब जब बीजेपी ने उन्हें मेरठ से टिकट दिया है तो क्या होता.

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *