Sun. May 19th, 2024

PF Account problem पीएफ विभाग ने दिया झटका, क्लेम खारिज? यह गलती महंगी पड़ सकती है

provident fund

PF Account problem. क्या आपको अपने पीएफ खाते से रकम निकालने में दिक्कत आ रही है? क्या आपका दावा खारिज हो रहा है? . सदस्यों की छोटी- छोटी गलतियों की मार उन पर पड़ रही है. लगभग 3 में से 1 दावा खारिज कर दिया जाता है ।

तीन में से एक दावा खारिज किया जा रहा है. EPFO डेटा के मुताबिक, साल 2022- 23 में 73 लाख 87 हजार फाइनल क्लेम मिले. इसमें से 34 फीसदी यानी 24 लाख 93 हजार रिजेक्ट कर दिए गए. लेकिन खाते से रकम निकालने में दिक्कत आ रही है।

ऑनलाइन प्रोसेसिंग के कारण संख्या बढ़ी

यह बात सामने आई है कि सदस्यों की छोटी- छोटी गलतियां महंगी पड़ रही हैं । ये छोटी गलतियाँ क्या हैं? ईपीएफओ अधिकारियों के मुताबिक, क्लेम खारिज करने की वजह ऑनलाइन प्रोसेसिंग बढ़ने से पैदा हुआ भ्रम है । पहले कंपनी दावे के दस्तावेजों की जांच कर रही थी. तब ये दस्तावेज EPFO के पास आ रहे थे. अब इसे आधार कार्ड से लिंक कर दिया गया है. सदस्यों को एक यूनिवर्सल अकाउंट नंबर भी दिया गया है. फिलहाल 99 फीसदी दावों का निपटारा ऑनलाइन हो रहा है

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, वित्त वर्ष 2022- 23 के दौरान73.87 लाख दावों का निपटारा किया गया. इसमें24.93 लाख दावे खारिज कर दिये गये. ये कुल दावों का33.8 फीसदी हैं. वित्त वर्ष 2017- 18 में यह आंकड़ा 13 फीसदी और 2018- 19 में यह आंकड़ा18.2 फीसदी था. वित्तीय वर्ष 2019- 20 में दावों का अस्वीकृति प्रतिशत 24.1 था, 2020- 21 में यह30.8 था और 2021- 22 में यह35.2 था ।

छोटी- छोटी गलतियाँ महँगी पड़ जाती हैं

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, दावे को खारिज करने के कई कारण हैं । ईपीएफओ के निदेशक मंडल ने भी दावा खारिज होने पर चिंता जताई है. ईपीएफओ हेल्प डेस्क के कर्मचारी आवेदन को सही करने में मदद कर रहे हैं । ये बहुत छोटी गलतियाँ हैं. स्पेलिंग में गलती, पीएफ अकाउंट नंबर में गलती या अन्य गलतियां महंगी पड़ रही हैं । इन गलतियों के कारण वे पैसे की तंगी होने पर भी समय पर रकम नहीं निकाल पाते हैं । बल्कि इन त्रुटियों के कारण उनका दावा खारिज किया जा रहा है.

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *