चाणक्य के अनुसार एक राजा को कैसा होना चाहिए

1. **योग्यता:**  राजा को योग्यता और प्रबंधन कौशल के साथ युक्त होना चाहिए, ताकि वह अपने राज्य को सही तरीके से प्रबंधित कर सके।

2. **नीति-शास्त्र का ज्ञान:** चाणक्य कहते हैं कि राजा को नीति-शास्त्र का अच्छा ज्ञान होना चाहिए, ताकि वह विशेष परिस्थितियों में सही निर्णय ले सके।

Fill in some text

3. **सत्यनिष्ठा:** राजा को सत्य पर आधारित होना चाहिए और वह अपने वचनों का पालन करना चाहिए।

4. **जनहित में लगाव:** राजा को अपने प्रजा के हित में लगाव रखना चाहिए और उनकी कल्याणकारी योजनाओं को प्रोत्साहित करना चाहिए

5. **सुरक्षा का प्रबंधन:** राजा को अपने राज्य की सुरक्षा का प्रबंधन करना चाहिए और शत्रुओं से अपने प्रजा को सुरक्षित रखना चाहिए।

6. **आत्मनिग्रह:** राजा को अपने इंद्रियों का निग्रह करना चाहिए और सामंत्रिक नहीं होना चाहिए।

7. **शिक्षा का प्रमोट:** राजा को शिक्षा के प्रति समर्पित रहना चाहिए और अपने राज्य के लोगों को भी शिक्षित बनाने के लिए प्रेरित करना चाहिए।

8. **धर्म का पालन:** राजा को धर्म के नियमों का पूरी तरह से पालन करना चाहिए और अपने प्रजा को भी धार्मिक मूल्यों का समर्थन करना चाहिए।