ट्रेन के पुराने डिब्बों का क्या करती है भारतीय रेल, सच्चाई जानकर सोच में पड़ जाएंगे

रोजाना करोड़ों लोग भारतीय रेल की सेवाओं का लाभ उठाते हैं और समय पर अपने गंतव्य पर पहुंचते हैं।

यह एक बड़ा सवाल है कि भारतीय रेल अपने पुराने डिब्बों का क्या करती है।

भारतीय रेल इन डिब्बों को डंप करने के बजाए, इसका नए सिरे से इस्तेमाल करती है।

भारतीय रेल अपने पुराने डिब्बों की बॉडी को मॉडिफाई करती है और फिर इसे एकदम नया कोच बनाने के बाद अलग-अलग ट्रेनों में इस्तेमाल करती है।

इसके अलावा, पुराने डिब्बों को रेल कर्मचारियों के लिए अस्थाई घरों के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

पुराने कोच में कर्मचारियों के लिए बनाए जाने वाले अस्थाई घरों को Camp Coach कहा जाता है।

भारतीय रेल के यात्री कोच की उम्र करीब 30 साल होती है।

भारतीय रेल हमारे देश की लाइफलाइन है. रोजाना करोड़ों लोग भारतीय रेल की सेवाओं का लाभ उठाते हैं।